ramzan me kajur se roja kholne ke faiyde

रमजान में खजूर से रोज़ा खोलने के फायदें |

रमजान का महीना मुसलमानों के लिए नेकियों और इबादतों का महीना कहा जाता है | रमजान का महीना 29 या 30 दिन का होता है ,और ये कैलेंडर के अनुसार 9वां महीने में पड़ता है | इस महीने मुस्लिम धर्म के लोग सूर्य निकलने से पहले ही खाते (सेहरी ) है , फिर पुरे दिन बिना कुछ खाए – पिए रहते है लोग और साम में 6 बजे सूर्य ढलने के बाद रोजा (इफ्तार ) खोलते है | रोजा जो लोग रहते है वो रोजा खजूर से ही खोलते है रमजान में खजूर से रोजा खोलने के फायदे | भी निम्न है इसे पूरा पढ़े और जाने फायदे के बारे में |

रसोई युक्तियाँ

रसोई युक्तियाँ एक रेस्तरां की तरह आपकी रसोई चलाने में मदद करने के लिए

रेस्तरां की रसोई में खाना पकाने के दिनचर्या से घर पर खाना बनाने का अनुभव अलग है। Mise en place का अर्थ है “अपनी जगह सब कुछ,” और यह हर रेस्तरां के लिए सबसे महत्वपूर्ण वाक्य हैं। यदि सब कुछ अपने उचित स्थान पर होगा तो खाना बनाना तेज, आसान और अधिक सुखद होगा। रसोई युक्तियाँ एक रेस्तरां की तरह आपकी रसोई चलाने में मदद करने के लिए

बेकरी केक

बेकरी केक घर पर कैसे बनाये ?

कोरोनाकाल में लोग बाहर चीजों को खाने से परहेज कर रहे है. ऐसे में मनपसंद चीजों को घर पर ही बनाकर होटल का आनंद लिया जा रहा है. बेकरी उत्पाद जैसे ब्रेड , बर्गर , केक और पेस्टीज लोग काफी पसंद करते है. विशेषकर केक तो हर अवसर जैसे जन्मदिन, शादी सालगिरह आदि के लिए आकर्षण का केन्द्र रहता है.