क्या आप भी यह जानना चाहते है की फैशन डिजाइनिंग और गारमेंट्स टेक्नोलॉजी में क्या करना होता है , तो आपको घबराने की कोई जरूरत नहीं है | क्यों की हम आपको इस ब्लॉग में बताने जा रहे है की इसमें क्या कोर्स है , और क्या करना होता है | इसके लिए आप को इस पुरे ब्लॉग को पढ़ना होगा | 

फैशन डिजाइनिंग क्या है  |

आज की समय में बहुत से लोग इस फैशन डिजाइनिंग कोर्स को करना चाहते है ,क्यों की इसमें आपको यह सिखाया जाता है की कपड़ो को कैसे सुंदर बनाया जाए |  आज के इस दौर में लगभग सभी लोग यह चाहते है की अच्छे से अच्छे कपडे पहने ,पर सभी लोगो में यह कौशल ( हुनर ) नहीं होता है | जिसके वजह से वजह से वह अपना कपडा खुद से  डिजाइन  नहीं कर पते है ,और इसके लिए डिजाइनर के पास जाते है | 

गारमेंट टेक्नोलॉजी क्या है  |

यह एक ऐसा विषय है जिसमें छात्र कपड़ों के उत्पादन के साथ अलग अलग  तकनीकी पहलुओं के बारे में जानना होता हैं। गारमेंट टेक्नोलॉजी उन लोगों के लिए अच्छा होता है जिनके दिमाग में रचनात्मक सुझाव होते है,  गारमेंट टेक्नोलॉजिस्ट का काम होता है कि वह डिजाइन की तकनीक पर काम कर के यह  तय करें कि क्या इसे वास्तव में बनाया जा सकता है। क्यों की यहां पर हमेशा कुछ न कुछ नया करना होता है।    

फैशन  डिजाइन और गारमेंट टेक्नोलॉजी का टीचर बनने के लिए कौन सा  कोर्स करें |

क्या आप भी फैशन  डिजाइन और गारमेंट टेक्नोलॉजी का टीचर बनना चाहते है तो इसके लिए आपको सबसे पहले मैट्रिक और इंटर का कोर्स पूरा करना होगा  और इंटर में कम से कम  50% से ज्यादा मार्क्स होना चाहिए | इसके साथ ही आपको इस विषय में रुचि भी होना चाहिए ,जिससे आप एक अच्छे टीचर बन सके |  

यह एक ऐसा विषय है जिसमें  कपड़ों के उत्पादन के अलग अलग  तकनीकी पहलुओं के बारे में जानकारी प्राप्त करना होता है। गारमेंट टेक्नोलॉजी के उन लोगों के लिए है, जिनके दिमाग में रचनात्मक सुझाव होते है। 

 फैशन डिजाइनिंग के लिए कोर्स |

हम आप को बता दे की इस कोर्स को करने के लिए ,सबसे जरूरी चीज है कम से कम बारहवीं में 50 प्रतिशत मार्क्स होना चाहिए |  यह कोर्स करने में आपको लगभग 4 साल का समय लगता है, जिसमे  कोर्स करने का खर्चा 1.15 से 3 .20 लाख रुपए सालाना लगता है ।

फैशन डिजाइनिंग कोर्स के प्रकार |

  • बीए फैशन डिजाइन
  • एमएससी इन फैशन डिजाइनिंग
  • पीजी डिप्लोमा इन फैशन डिजाइनिंग
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन फैशन डिजाइनिंग
  • बी डिजाइन इन फैशन
  • बीएससी इन फैशन इन डिज़ाइन
  • एडवांस डिप्लोमा इन फैशन डिजाइनिंग एंड मॅनॅग्मेंट
  • डिप्लोमा इन फैशन डिजाइनिंग

फैशन डिजाइनिंग कॉलेज |

क्या आप भी किसी अच्छे फैशन डिजाइनिंग कॉलेज की तलाश में है , तो अब आप को घबराने की कोई जरूरत नहीं है | क्यों की यहाँ पर इंडिया के बेस्ट और टॉप कॉलेज के नाम दिए गए है |  

  • National Institute of Fashion Technology (NIFT), New Delhi. 

             ( नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ फैशन टेक्नोलॉजी (एन आई एफ टी ), न्यू दिल्ही  ) 

  • National Institute Of Design (Nid) – Ahmedabad. 

( नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ डिजाइन (एन आई डी ),अहमदाबाद 

  • JD Institute Of Fashion Technology – Mumbai

          (जेडी इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी – मुंबई)

  • National Institute of Fashion Technology (NIFT), Mumbai. 

( नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ फैशन टेक्नॉलजी (एन आई एफ टी ),मुंबई  )

  • National Institute of Fashion Technology (NIFT), Bangalore

(नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ फैशन टेक्नोलॉजी (एन आई एफ टी ),बैंगलोर 

  • JD Institute Of Fashion Technology – Jaipur

(जेडी इंस्टीट्यूट ऑफ़ फैशन टेक्नॉलजी – जैपुर )

  • JD Institute Of Fashion Technology – mumbai

( जेडी इंस्टीट्यूट ऑफ़ फैशन टेक्नॉलजी  – मुंबई )

fashion design and garment technology

फैशन डिजाइनर बनने  के लिए क्या पढ़ना चाहिए   है?

इस कोर्स को अपनी स्कूली शिक्षा [Schooling (10th) Education] पूरा करके भी किया जा सकता है, लेकिन एक अच्छे फैशन डिजाइनर बनने के लिए 12th पास होना बेहद जरूरी  है | यह  मानय नही रखता की आपने किस स्ट्रीम से अपना 12th पूरा किया है,आपके 12th के Certificate में 45% से 55% मार्क्स होना चाहिए | जिसके बाद आप फैशन डिजाइनिंग का कोर्स कर सकते है |  

क्या फैशन डिजाइनिंग एक अच्छा करियर है?

फैशन डिजाइनिंग में भी काफी अच्छी सैलरी होती है। अगर आप कहीं जॉब करते है तो आपको  शुरू-शुरू में सैलरी 10,000 से 15 ,000 रुपये महीने हो सकती है। लेकिन आप कुछ साल काम कर के इस फिल्ड में माहिर ( एक्सपर्ट ) हो जाते है , तो सैलरी काफी बढ़ जाती है। जब आप इस फील्ड में एक बार जाने-पहचाने नाम बन जाएंगे  ,तो फिर आप प्रोडक्शन, फैशन मार्केटिंग, डिजाइन प्रोडक्शन मैनेजमेंट, फैशन मीडिया, क्वालिटी कंट्रोल, फैशन एक्सेसरीज डिजाइन और ब्रांड प्रमोशन का भी काम कर सकते है या फिर अपनी खुद का सेंटर ( दुकान ) खोल देते है ,तो आप लाखों की कमाई कर सकते हैं।

फैशन डिजाइनिंग सैलरी |

आप भी यह सोचते है की फैशन डिजाइनिंग करने वाले व्यक्ति को कितना सैलरी मिलता है ,तो हम आप को बता दे की एक फैशन डिजाइनर व्यक्ति की शुरुआत की सैलरी कम से कम 10 हज़ार से 15 हज़ार रुपये तक होता है ,लेकिन यह आपके जॉब पे निर्भर करता है कि आप किस कंपनी में जॉब कर रहे और किस तरह के पोस्ट पर काम करते है। अगर आपकी खुद की कंपनी या फैशन स्टूडियो है, तो आप कम से कम एक महीने का  2 से 3 लाख तक भी कमा सकते है। 

क्या फैशन डिजाइनिंग आसान है?

क्या आप भी यह सोचते  है की फैशन डिजाइनिंग का काम आसान होता है ,तो ऐसा कुछ नहीं है | क्यों की फैशन डिजाइनिंग उतना भी आसान नहीं है,जितना आप सोचते है या फिर फोटो या पर्दे पर दिखाया जाता है |  फैशन डिजाइनिंग में सिर्फ स्केचिंग या लुक्स बनाना ही नहीं होता है बल्कि इसमें आप सभी को स्क्रैच से कपड़ा बनाना पड़ता है,इसके साथ ही अच्छे फैशन डिजाइनर बनने के लिए कपड़ों के प्रकार, टेक्सचर, ड्यूरेबिलिटी आदि का भी पढ़ाई  करना पड़ता है | 

हेलो दोस्तों आज का हमारा ब्लॉग ‘फैशन डिजाइनिंग और गारमेंट्स टेक्नोलॉजी में क्या करना होता है’ आप सभी को कैसा लगा , उम्मीद करते है की यह ब्लॉग को  पूरा पढ़ने के बाद आपको फैशन डिज़ाइन और गारमेंट टेक्नोलॉजी के बीच का अन्तर साफ़ समझ में आ गया होगा |  अगर किसी विषय पर कोई सवाल रह गया हो तो कमेंट कर के ज़रूर बतये  हम उसका जवाब देने की पूरी कोसिस करेंगे | अगर आपको यह ब्लॉग अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों को जरूर शेयर करे | 

इसे भी पढ़े :

फूड फेस्टिवल कहां मनाया जाता है 

ऑनलाइन पैसे कैसे कमाये 

बिज़नेस शुरू कैसे करे?


1 Comment

इंफ्रारेड और इंडक्शन कुकटॉप में क्या अंतर है | difference between infrared and induction cooktop in hindi - कुछ सीखे · 12/08/2021 at 6:01 pm

[…] फैशन डिजाइनिंग और गारमेंट्स टेक्नोलॉ… […]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *